Road Safety Essay In Hindi- सड़क सुरक्षा पर निबंध

सड़क सुरक्षा से सम्बंधित निबंध लेखन आपके लिए हेल्पफुल होगा। Road Safety Essay In Hindi – में 750 शब्द , 300 शब्द एवं सड़क सुरक्षा से सम्बंधित 10 लाइन का निबंध निम्नलिखित है। ये निबंध अलग –  तरह से भी पूछा जाता है। जैसे की सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा, सड़क सुरक्षा की असर ।

सड़क सुरक्षा के इस निबंध (Road Safety Essay In Hindi) से आप स्पीच भी तैयार कर सकते है। और निबंध स्पर्धा के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हो।

 

Road Safety Essay In Hindi- सड़क सुरक्षा पर निबंध

Road Safety Essay In Hindi

Road Safety Essay In Hindi

 

सड़क सुरक्षा है हम सबकी जिम्मेदारी, इसमें लापरवाही है सबसे बड़ी बीमारी ।

प्रस्तावना

मानव जीवन अनमोल है। हमारा भी और दूसरे का भी। बढ़ती टेक्नोलॉजी के साथ मानव जीवन सहूलियत से भर गया है। हरेक क्षेत्र में जितनी सुविधा बधाई है, सामने खतरा, जोखिम भी बढ़ता है। पहले इसने अकस्मात नहीं होते थे जब बैल गाड़ी या घोडा गाड़ी चलती थी। पर मुश्किल वो था की उसमे समय की बर्बादी होती थी।

हमने रफ़्तार से चलने वाली गाड़िया बनायीं, रोड बनाये, तो हमारे सामने अकस्मात रूपी समस्या खड़ी हो गयी। निश्चिंत ये दुनिया के लिए समस्या है। पर हमारे देश में इसका असर ज्यादा है। देखा जाये तो ये हमें निर्देश देती है, की बढ़ती टेक्नोलॉजी के सहारे हमें सहूलियत के साथ सुरक्षा का भी ख्याल रखना चाहिए।

 

अकस्मात से नुकशान

वैसे समस्या अपने आप जन्म नहीं लेती, उसके पीछे हाथ भी हमारा ही होता है।
130 करोड़ की आबादी वाला देश, हर तीन से चार मिनिट में एक व्यक्ति की मोत।
हररोज करीब 400 और हरसाल डेढ़ से दो लाख लोगो की मृत्यु। सर्वे के अनुसार अकस्मात से होने वाली जान हानि का एक चित्र है।
साथ में करोडो की सम्पति का नुकशान।

अकस्मात में किसी माँ का लाल चला जाता है, तो कोई स्त्री का भरथार चला जाता है। किसी के सर से माँ बाप का साया चला जाता है, तो किसी माँ बाप के अनमोल रतन चले जाते है। ये ऐसी हानिया है जिसे कोई पूरा नहीं कर सकता।

क्यू होते है अकस्मात् – अकस्मात् के कारण

निःसंदेह मानव को मिलने वाली सहूलियत, रफ़्तार में मानव का ही हाथ है। पर उतना ही जिम्मेदार अद्योगति के लिए भी है। कोई भी वस्तु हम अनुशासन में रहके इस्तेमाल करे तो हमें तो हमारे लिए वरदान है। पर अनुचित उपयोग हमारे लिए श्राप के समान है।

रोड अकस्मात् के कारण निचे दर्शाया गया है। जो हमारी अनुशासन हीनता दिखाता है।

रोड एक्सीडेंट होने के कारण

1 – शराब या नशीला पदार्थ पीकर गाड़ी चलाना। ये अकस्मात् बड़ा कारण है। नशीला पदार्थ सेवन करने से गाड़ी का कण्ट्रोल नहीं रहता। और हम हमारे साथ दुसरो की जान लिए भी जोखिम बन जाते है।

2 – ट्रैफिक नियमो का ज्ञान न होना और पालन न करना। इसके लिए भ्रस्टाचार जिम्मेदार है। ट्रैफिक के नियमो का उल्लंघन करने वाले को मालूम है, की सरकारी बाबू कुछ पैसे लेकर जाने देंगे।

3 – बहुत ज्यादा स्पीड से ड्राइविंग करना। ज्यादा रफ्तार से चलना याने मोतको दावत देना।

4 – ड्राइविंग के समय ध्यान भटकना। कही बार काम का बोज ज्यादा रहता है तो नींद में ड्राइविंग पे काबू नहीं रहता और अकस्मात का भोग बनते है।

5 – ख़राब मौसम के कारण दुर्घटना। ज्यादा कोहरा और बारिश अकस्मात जैसे वातावरण में अकस्मात होते है।

6 – रोड की स्थिति ठीक न होना। हमारे देश में यह समस्या भी बड़ी है। खासकर बारिश के दिनों में रोड के गद्दे कही लोगो की जान ले लेते है।

7 – गलत दिशा में गाड़ी चलाना, और ओवर टेक करना। अकस्मात् का सबसे बड़ा कारण है। और ये हमारी सबसे बड़ी अनुशासन हीनता।
ऊपर के कारण में हमारी लापरवाही है। ये सब गलती हम जानबूझकर करते है। सड़क दुर्घटना का शिकार होते है।

सड़क दुर्घटना में काफी अकस्मात् ऐसे होते है। की गलती कोई करता है और भुगतता कोई और है। निर्दोष लोग जो अनुशासन में रहते है वो भी कभी दुसरो की गलती के शिकार बन जाते है। ऐसे लोगो से सख्ती से निपटना चाहिए।

 

हमारे देश में हर घंटे में 53 अकस्मात् होते है। जिसमे हर चार मिनट में एक व्यक्ति की मौत होती है। जितने हमारी बॉर्डर पे सैनिको शहीद नहीं होते, उससे ज्यादा मृत्यु सड़क हादसे से होती है। 

 

भारत में सड़क दुर्घटना से मृत्यु होने वाले लोगे का अकड़ा ।

2015 में ब्राज़ील की राजधानी ब्रासीलिया में एक विश्व स्तरीय समजोता हुआ था। जिसमे भारत ने भी हिस्सा लियाथा। उस का मुख्या उद्देश्य सड़क दुर्घटना को रोकना था। इस में एक लक्ष्य रखा गया था की,सड़क दुर्घटना को आधा करना उससे होने वाले मृत्यु की संशय को आधा करना।

भारत सरकार अकस्मात् को रोकने के हर संभव प्रयास कर रही है। और निचे के अंक देख के कुछ हद तक ये कण्ट्रोल हुआ भी दिख रहा है।

क्रमांक  साल  हर साल होने वाली मृत्यु 
1 2016 1.5 लाख 
2 2017 2.19 लाख 
3 2018 1.35 लाख 
4 2019 1.36 लाख 
5 2020 1.2 लाख 

 

ट्रैफिक नियम क्या है ? कैसे पालन करे ? Traffic Rules

यातायात को सुचारु रूप से चलाने के लिए नियम बनाये जाते है। भारत सरकार में वाहन व्यवहार मंत्रालय होता है। यातायात से जुडी हर समस्या के निवारण के हेतु इस मंत्रालय काम करता है।

सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए नियम बनाये जाते है। इसमें से कुछ नियम निम्लिखित है।

दुर्घटना को रोकने के लिए ट्रैफिक के नियम

1 – अनुशासन में रहके ट्रैफिक नियमो का पालन करे।
2 – कोई भी नशीली पदार्थ ले के ड्राइविंग न करे।
3 – ट्रैफिक सिग्नलों को ध्यान में रख के गाड़ी चलाये।
4 – वाहन की गति कण्ट्रोल हो सके इतनी ही रखे। क्युकी ,झड़प की मज़ा मोत की सजा हो सकती है।
5 – मुड़ते वक्त साइड लाइट का इस्तेमाल करे।
6 – रोंग साइड से कभी गाड़ी न निकाले।
7 – सेफ्टी बेल्ट हेलमेट का उपयोग जरूर करे।

निष्कर्ष 

रफ़्तार से चलना जरूर है, पर जिंदगी की रफ़्तार न रुक जाये इसका ध्यान भी रखना जरुरी है। अकस्मात् हमारी गलती या लापरवाही की बजह से होता है। अकस्मात को रोकने के लिए खुद को अनुशासित होना पड़ेगा। सरकार अपने स्तर पे प्रयास करती है। पर जनता का सहयोग अनिवार्य है।

सड़क सुरक्षा नहीं है मज़बूरी
खुशहाल जीवन के लिए है बहुत जरुरी।

 

60+Safety Slogan In Hindi- सुरक्षा स्लोगन 

Industrial Safety Essay In Hindi – औद्योगिक सुरक्षा निबंध

 


 

सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा – Road Safety Essay In Hindi

Road Safety Essay In Hindi

Road Safety Essay In Hindi

 

सड़क पे नसा करके गाड़ी चलाते हो,
अच्छा हे यमराज को आमंत्रित करते हो

 

प्रस्तावना

हमारा देश गतिशील देशो गिनती में आता है। सड़के अच्छी बन रहि है। नतीजा, गति भी बढ़ रही है। सड़को पर अकस्मात का रेश्यो भी बढ़ रहा है। सड़क सुरक्षा हमारे देश में धीरे धीरे बड़ा रूप ले रही है। इससे पहले की ये समस्या विकरार बने हमें जनभागीदारी से निपटना चाहिए।

सड़क दुर्घटना एक बड़ी समस्या

एक सर्वे के अनुशार दुनिया में हरसाल 13 से 15 लाख लोगो की मृत्यु सड़क दुर्घटना में होती है। इसमें सबसे ज्यादा बच्चे होते है। हमारे देश में इसका अंक डरावना है। और साल दर साल इसमें बढ़ोतरी हो रही है। हस्ता खेलता परिवार उजड़ जाता है। जानमाल का नुकशान होता है।

हमारे देश में सड़क दुर्घटना के सटीक कारण

सबको जल्दी जाना है। कोई भी व्यक्ति इंतजार करने के लिए तैयार नहीं है। थोड़ा सा ट्रैफिक जाम हुआ तो रोंग साइट से रफ़्तार पकड़ लेते है।

परिणाम खुद भी अकस्मात का भोग बनते है, और कही निर्दोषो को भी साथ ले के जाते है।

शराब पीकर, नसा करके गाड़ी चलना हमारे यहां ये आम बात है। जिस राज्य में शराब बंधी है ऐसे राज्यों में भी हजारो लोग शराब पीकर गाड़ी चलाते है। दुर्घटना के भोग बनते है।

ड्राइविंग की अज्ञानता, बिना ड्राइविंग लाइसेंस के गाड़ी चलना हमारे देश में जैसे फैशन है। आज़ाद होके गाड़ी चलाने वाले को मालूम है की कुछ पैसे देकर मामला ख़तम हो जाता है। ये हमारे देश की सिस्टम की कमी है। कुछ पैसे लेकर लोगो की जान जोखिम में डालते है।

हीट एंड रन के केस हमारे देश में हमेशा चर्चा में रहता है। जैसे सलमान खान ने काफी लोगो को कुचल दिया था। ऐसे बहुत सारे केस हमारे देश में बनते है। पैसे वाले लोग मॅहगी गाड़िया खरीदते है, और रफ़्तार से चलाते है। काबू रहता नहीं है और कही निर्दोष लोगो की जान गावनि पड़ती है।

हमारी सिस्टम की बेदरकारी, हमारे यहां कोई भी काम पैसो के बल पर हो जाता है। वैसे ही बिना गाड़ी चलाये ड्राइविंग लाइसेंस भी मिल जाता है। ट्रैफिक नियमो का उलंघन करने वाला बेफिक्र होके गाड़ी चलाता है। अकस्मात करने वाला कोर्ट से रिहा हो जाता है। सरकारी बाबू पैसे बनाने में मस्त रहते है।

लापरवाही, मौका मिलते ही हम दुसरो को सलाह देने लग जाते है। पर खुदकी बारी आती है तो खुद भी लापरवाह बन जाते है। हमारी अनुशासन हीनता के कारण हमारे परिवार को कीमत चुकानी पड़ती है।

सड़क अकस्मात् रोकने के उपाय

  •  सबको ट्रफिक नियमो का पालन करना चाहिए,
  • अनुशासन में रहके गाड़ी चलानी चाहिए।
  • चलने वाले यात्री, साइकिल वाले यात्री का भी ध्यान रखा जाना चाहिए।
  • ट्रैफिक नियमो के उल्लगन करने वालो के लिए दंडनीय सजा होनी चाहिए।
  • नियमो को दरकिनार करके पैसे इक्कठे करने वाले सरकारी बाबू ओ पे सख्ती से कार्य वाही होनी चाहिए ।

 

सेव लाइफ फाउंडेशन के मुताबिक लास्ट 10 वर्षो में – 13,81,000 से ज्यादा लोगो की मौत हुई है। और 50,30,000 लोगो से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए है। याने हर साल एक लाख से ज्यादा लोगो की मौत सड़क दुर्घटना से होती है।

 

सड़क पर तेज तुम न चलना
अकस्मात् की है संभावना।

 

Fire Extinguisher In Hindi – अग्निशामक कैसे यूज करना है ?

What is Fire In Hindi – फायर क्या है ? फायर के प्रकार ।


रोड सेफ्टी निबंध 10 Line

 

1- सड़क सुरक्षा हम सबके लिए अनिवार्य है।

2- हमारे देश में सड़क दुर्घटना में करीब दो लाख लोगो की मृत्यु होती है।

3- हमें  ट्रैफिक एवं सुरक्षा के नियमो का पालन करना चाहिए ।

4- 18 साल से कम उम्र वालो को गाड़ी नहीं चलानी चाहिए ।

5- गाड़ी चलाते समय सीट बेल्ट का इस्तेमाल करना चाहिए ।

6- ट्रैफिक के नियमो की जानकारी पाठ्यपुस्तकों में होनी चाहिए ।

7- शराब पीकर गाड़ी नहीं चलानी चाहिए ।

8- रोड क्रॉस करते समय जिब्रा क्रॉसिंग का उपयोग करना चाहिए ।

9- सड़क दुर्घटना को रोकना हम सबकी जिम्मेदारी है ।

10- हमें जान अभियान के तहत इस समस्या का निवारण करना चाहिए।

 

सच्चे नागरिक का धर्म निभाए
अनुशासित रहके गाड़ी चलाये।

 

Electrical Safety In Hindi – बिजली से सुरक्षा

सड़क सुरक्षा सिर्फ सरकार की नहीं, हम सब की जिम्मेदारी है। हम अपना कर्त्तव्य निभाए अकस्मात् को दूर भगाये।

Spread the love

Leave a Comment